ताड़ी क्या हैं (what is tari, tadi, toddy)

0
Benefits of tari

ताड़ी क्या हैं (what is tari, tadi, toddy)




 ताड़ी एक तरल मादक प्रदार्थ हैं. जो ताड़ के और खजूर के पेड़ से निकाला जाता हैं. इसका रंग उजला होता हैं. ताड़ी को मिटटी के बर्तन में रखा जाता हैं जिसे बिहार में लवणी कहते हैं. और जिससे ताड़ी को पिया जाता हैं उसे तरकटटी कहा जाता हैं जो की मिटटी का बना होता हैं. ताड़ी को विभिन्न जगहों पे विभिन्न नाम से जाना जाता हैं. UP BIHAR में ताड़ी के नाम से तो तेलगु में थाटी कल्लू के नाम से. इस तरह अलग अलग देशो में भी अलग अलग नाम से जाना जाता हैं. दक्षिण भारत में तो ज्यादातर ताड़ी नारियल के पेड़ से निकाला जाता हैं. और ताड़ी से नीरा भी बनाया जाता हैं. कुछ जगह पे ताड़ी को वाष्पीकरण करके गुड़ भी बनाया जाता हैं. ताड़ी पुरे भारत के ग्रामीण इलाको में एक लोकप्रिय ड्रिंक हैं. जिसे लोग काम के बाद और दिन के अंत में अक्सर पिया करते हैं.

Taste of tari toddy

UP BIHAR में ताड़ी बेचने वाले एक पेशेवर जाती हैं (पाशी) जो ताड़ी बेचा करते हैं. आज के समय में तो ये काम कम लोग करते हैं.लेकिन अभी भी पाशी समुदाय में कुछ लोग हैं जिनका जीविका इस धंधे से चलता हैं. तमिलनाडु में फ़िलहाल इस पेय प्रदार्थ पर बैन लगा हुआ हैं.

ताड़ी का स्वाद (The taste of tadi, tari, toddy)

ताड़ी अगर ताजी (तुरंत पेड़ से उताड़ा हुआ) तो मीठी और थोड़ी थोड़ी खट्टी होती हैं. अगर ताड़ी को पेड़ से उतरे 12 घंटे से ज्यादा हो जाता हैं तो ताड़ी खट्टा लगने लगता हैं. अगर ताड़ी खजूर का हैं तो वो थोड़ी मीठी होती हैं. अगर खजूर की ताड़ी एकदम ताजी हैं तो वो मीठी होगी. ताड़ी का टेस्ट ताड़ के पेड़ पे भी निर्भर करता हैं. ताड़ी अगर ताड़ के फ्रूट (फेदा) से निकाला गया हैं तो उसका टेस्ट में थोड़ा मीठापन ज्यादा लगेगा. अगर बल्लुरी से निकाला गया होगा तो उसका टेस्ट थोड़ा अलग होगा. सुबह सुबह ताड़ी का स्वाद मीठा लगता हैं लेकिन शाम होते होते खट्टा हो जाता हैं.




 ताड़ी के फायदे (Benefits of tari, tadi, toddy)

आँखों के लिए फायदेमंद

ताड़ी में एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन C होता हैं जो आँखों की रौशनी बढ़ाने में काफी मददगार होता हैं.
इसमें विटामिन बी 1 (थायमिन) होता है जो आँखों की दृश्यता को बढ़ाता हैं. यही कारण हैं की पहले के लोगो को आजकल के लोगो के अपेक्षा दृश्यता ज्यादा थी.

त्वचा और बालो के लिए फायदेमंद

ताड़ी में बिटामिन बी काम्प्लेक्स और आयरन होता हैं. जो हमारे बालो और त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता हैं. आयरन हमारे शरीर नया कोशिका बनाने में काफी मददगार होता हैं. यही कारण हैं की ताड़ी के सेवन करने वालो के घाव जल्दी भर जाते हैं.

ताड़ी दिल के होने वाली बीमारी को भी काम करता हैं.

अगर आप ताड़ के ताड़ी को नियमित मात्रा में पीते हैं तो इससे आपके हाई ब्लूडप्रेसर को कण्ट्रोल में रहता हैं. जिससे आप कई तरह के दिल के बिमारिओ से बच सकते हैं.
लेकिन अगर आप ताड़ी को ज्यादा मात्रा में पीते हैं तो इससे आपके जिगर नष्ट हो सकते हैं. दूषित और नकली शराब पिने से अच्छा हैं की आप ताड़ी पियें.

निष्कर्ष

ताड़ी एक मादक प्रदार्थ हैं इसे पिने से बचना चाहिए. ताड़ी पिने से भी नशा आता हैं.अगर आपको ताड़ी मिठास और टेस्ट के लिए पीना हैं तो ताजी और फ्रेश ताड़ी ही पियें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 7 =